Rail budget a complete presentation.


रेल बजट – कुछ क्लास के बढ़े रिजर्वेशन चार्ज
नई दिल्ली, 26 फरवरी (हि.स.)। रेल मंत्री पवन कुमार बंसल ने अपने पहले रेल बजट में एक तरफ किराये की बढ्ढोत्तरी नहीं की। वहीं दूसरी तरफ रेल बजट में रेलगाड़ियों के यात्री किरायों पर लागू आरक्षण शुल्क, तत्काल शुल्क, टिकट कैंसिलेशन चार्ज और सुपरफास्ट सरचार्ज में बढ्ढोत्तरी की है।
–आरक्षण चार्ज —
-दूसरे दर्जे का मौजूदा आरक्षण चार्ज 15 रुपये आगे भी 15 रुपये ही रहेगा।
-स्लीपर क्लास का मौजूदा चार्ज 20 रुपये आगे भी 20 रुपये ही रहेगा।
-एसी चेयर कार का मौजूदा चार्ज 25 रुपये आगे से 40 रुपये लगेगा।
-एसी 3 इकॉनॉमी का मौजूदा चार्ज 25 रुपये आगे से 40 रुपये लगेगा।
-एसी 3 टियर का मौजूदा चार्ज 25 रुपये आगे से 40 रुपये लगेगा।
-फर्स्ट क्लास का मौजूदा चार्ज 25 रुपये आगे से 50 रुपये लगेगा।
-एसी 2 टियर का मौजूदा चार्ज 25 रुपये आगे से 50 रुपये लगेगा।
-एसी फर्स्ट क्लास का मौजूदा चार्ज 35 रुपये आगे से 60 रुपये लगेगा।
-एक्जीक्यूटिव क्लास का मौजूदा चार्ज 35 रुपये आगे से 60 रुपये लगेगा।
— प्रस्तावित सुपरफास्ट चार्ज–
-दूसरे दर्जे का मौजूदा आरक्षण चार्ज 10 रुपये आगे से 15 रुपये लगेगा।
-स्लीपर क्लास का मौजूदा चार्ज 20 रुपये आगे से 30 रुपये लगेगा।
-एसी चेयर कार का मौजूदा चार्ज 30 रुपये आगे से 35 रुपये लगेगा।
-एसी 3 इकॉनॉमी का मौजूदा चार्ज 30 रुपये आगे से 45 रुपये लगेगा।
-एसी 3 टियर का मौजूदा चार्ज 30 रुपये आगे से 45 रुपये लगेगा।
-फर्स्ट क्लास का मौजूदा चार्ज 30 रुपये आगे से 45 रुपये लगेगा।
-एसी 2 टियर का मौजूदा चार्ज 30 रुपये आगे से 45 रुपये लगेगा।
-एसी फर्स्ट क्लास का मौजूदा चार्ज 50 रुपये आगे से 75 रुपये लगेगा।
-एक्जीक्यूटिव क्लास का मौजूदा चार्ज 50 रुपये आगे से 75 रुपये लगेगा।
— टिकट रद्द कराने के चार्ज–
रिजर्व दूसरा दर्जा-मौजूदा 20 रुपए-नया 30 रुपए
स्लीपर क्लास-मौजूदा 40 रुपए-नया 60 रुपए
एसी चेयर कार -मौजूदा 60 रुपए-नया 90 रुपए
एसी 3 इकॉनॉमी-मौजूदा 60 रुपए-नया 90 रुपए
एसी 3 टियर-मौजूदा 60 रुपएदृनया 90 रुपए
एसी 2 टियर-मौजूदा 60 रुपए-नया 100 रुपए
एसी फर्स्ट -मौजूदा 70 रुपए-नया 120 रुपए
एक्जीक्यूटिव-मौजूदा 70 रुपए-नया 120 रुपए
–वेटिंग लिस्ट और आरएसी टिकट रदद् कराने का चार्ज–
रिजर्व दूसरा दर्जा-मौजूदा 10 रुपए-नया 15 रुपए
स्लीपर क्लास-मौजूदा 20 रुपए-नया 30 रुपए
एसी चेयर कार-मौजूदा 20 रुपए- नया 30 रुपए
एसी 3 इकॉनॉमी-मौजूदा 20 रुपएदृनया 30 रुपए
एसी 3 टियर-मौजूदा 20 रुपए-नया 30 रुपए
एसी 2 टियर-मौजूदा 20 रुपए- नया 30 रुपए
एसी फर्स्ट-मौजूदा 20 रुपए-नया 30 रुपए
एक्जीक्यूटिव-मौजूदा 20 रुपए-नया 30 रुपए
–तत्काल टिकट के अतिरिक्त चार्ज–
रिजर्व दूसरा दर्जा-मौजूदा 10 रुपए-नया 10 रुपए
स्लीपर क्लास-मौजूदा 75 रुपए-नया 90 रुपए से 175 रुपए तक
एसी चेयर कार-मौजूदा 75 रुपए-नया 100 से 150 रुपए तक
एसी 3 टियर-मौजूदा 200 रुपए-नया 250 से 300 रुपए तक
एसी 2 टियर-मौजूदा 200 रुपए-नया 300 से 400 रुपए तक
एक्जीक्यूटिव क्लास-मौजूदा 200 रुपए-नया 300 से 400 रुपए तक
हिन्दुस्थान समाचार/ 26.02.2013/कौशल
रेल मंत्री ने किया 67 एक्सप्रेस और 27 नए पैसेंजर ट्रेनों की घोषणा
नई दिल्ली , 26 फरवरी (हि.स.)। रेल मंत्री पवन कुमार बंसल ने मंगलवार को लोकसभा में अपना पहला रेल बजट पेश किया। उन्होंने रेल बजट 2013-14 में 67 नई एक्सप्रेस और 27 नई पैसेंजर ट्रेनें चलाने की घोषणा की। पांच मेमू और आठ डेमू ट्रेनों को भी चलाने का ऐलान रेल मंत्री ने किया।
इसके अलावा, मुंबई लोकल में एसी कोच लगाए जाने, 24 पैंसेजर ट्रेनों के फेरे बढ़ाने व 57 पैसेंजर ट्रेनों की दूरी बढ़ाई जाने की घोषणा की गई है। वहीं कोलकाता में दमदम से लेकर मोपारा तक मेट्रो ट्रेन का काम मार्च 2013 तक पूरा कर लिया जाएगा। वित्त वर्ष 2014 में 500 किलोमीटर नई लाइन बिछाई जाएगी और 750 किलोमीटर ट्रैक डबल होंगे। कोलकाता और मुंबई में एसी ईएमयू ट्रेनें चलाई जाएंगी। कोलकाता में 80 और चेन्नई में 30 ट्रेनों में डिब्बों की संख्या बढ़ाई जाएगी।
घोषित नई एक्सप्रेस ट्रेनों की सूची–
1. अहमदाबाद-जोधपुर एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया समदड़ी, भिलड़ी
2. अजनी (नागपुर) -लोकमान्य तिलक (टी) एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया हिंगोली
3. अमृतसर-लालकुआं एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया चंडीगढ़
4. बांद्रा टर्मिनल-रामनगर एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया नागदा, मथुरा, कानपुर,
लखनऊ, रामपुर
5. बांद्रा टर्मिनल-जैसलमेर एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया मारवाड़, जोधपुर
6. बांद्रा टर्मिनल-हिसार एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया अहमदाबाद, पालनपुर, मारवाड़,
जोधपुर, डेगाना
7. बांद्रा टर्मिनल-हरिद्वार एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया वलसाड
8. बेंगलूरू-मंगलोर एक्सप्रेस (साप्ताहिक)
9. बठिंडा-जम्मूतवी एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया पिटयाला, राजपुरा
10. भुवनेश्वर-हज़रत निजामुद्दीन एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया संबलपुर
11. बीकानेर-चेन्नई एसी एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया जयपुर, सवाईमाधोपुर, नागदा,
भोपाल, नागपुर
12. चंडीगढ़-अमृतसर इंटरिसटी एक्सप्रेस (दैनिक) वाया साहिबजादा अजीत सिंह नगर
(मोहाली), लुधियाना
13. चेन्नई-करईकुडी एक्सप्रेस (साप्ताहिक)
14. चेन्नई-पलनी एक्सप्रेस (दैनिक) वाया जोलारपेट्टै, सेलम, करूर, नामक्कल
15. चेन्नई एग्मोर-तंजावूर एक्सप्रेस (दैनिक) वाया विलुपुरम, मइलादुतुरै
16. चेन्नई-नागरसोल (साई नगर शिरडी के लिए) एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया रेणिगुंटा,
धोने, काचेगुडा
17. चेन्नई-वेलनकन्नी लिंक एक्सप्रेस (दैनिक) वाया विलुपुरम, मइलादुतुरै, तिरूवरूर
18. कोयंबतूर-मन्नारगुडी एक्सप्रेस (दैनिक) वाया तिरूचिरापल्ली, तंजावूर, निदामंगलम
19. कोयंबतूर-रामेश्वरम एक्सप्रेस (साप्ताहिक)
20. दिल्ली -फिरोज़पुर इंटरिसटी एक्सप्रेस (दैनिक) वाया बठिंडा
21. दिल्ली सराय रोहिल्ला-सीकर एक्सप्रेस (साप्ताह में दो दिन) आमान परिवर्तन के
बाद
22. दिल्ली-होशियारपुर एक्सप्रेस (साप्ताहिक)
23. दुर्ग-जयपुर एक्सप्रेस (साप्ताहिक)
24. गांधीधाम-विशाखापट्नम एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया अहमदाबाद, वर्धा,
बल्लारशाह, विजयवाड़ा
25. हजरत निजामुद्दीन-मुंबई एसी एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया भोपाल, खंडवा, भुसावल
26. हावड़ा-चेन्नई एसी एक्सप्रेस (सप्ताह में दो दिन) वाया भिक, दुव्वादा, गुडूर
27. हावड़ा-न्यू जलपाईगुडी एसी एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया मालदा टाऊन
28. हुबली-मुंबई एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया मिरज, पुणे
29. इंदौर-चंडीगढ़ एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया देवास, उज्जैन, गुना, ग्वालियर, हज़रत
निजामुद्दीन
30. जबलपुर-यशवंतपुर एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया नागपुर, धमार्वरम
31. जयपुर-लखनऊ एक्सप्रेस (सप्ताह में तीन दिन) वाया बांदीकुई, मथुरा, कानपुर
32. जयपुर-अलवर एक्सप्रेस (दैनिक)
33. जोधपुर-जयपुर एक्सप्रेस (दैनिक) वाया फुलेरा
34. जोधपुर-कामाख्या (गुवाहाटी) एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया डेगाना, रतनगढ़
35. काकीनाडा-मुंबई एक्सप्रेस (सप्ताह में दो दिन)
36. कालका-साई नगर शिरडी एक्सप्रेस (सप्ताह में दो दिन) वाया हज़रत निजामुद्दीन,
भोपाल, इटारसी
37. कामाख्या (गुवाहाटी)-आनंद विहार एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया कटिहार, बरौनी,
सीतापुर कैण्ट, मुरादाबाद
38. कामाख्या (गुवाहाटी)-बेंगलुरु एसी एक्सप्रेस (साप्ताहिक)
39. कानपुर-आनंद विहार एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया फर्रूखाबाद
40. कटिहार-हावड़ा एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया मालदा टाऊन
41. कटरा-कालका एक्सप्रेस (सप्ताह में दो दिन) वाया मोरिन्डा
42. कोलकाता-आगरा एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया अमेठी, रायबरेली, मथुरा
43. कोलकाता-सीतामढ़ी एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया झाझा, बरौनी, दरभंगा
44. कोटा-जम्मूतवी एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया मथुरा, पलवल
45. कुनूर्ल टाऊन-सिकंदराबाद एक्सप्रेस (दैनिक)
46. लोकमान्य तिलक (टी)-कोचुवेली एक्सप्रेस (साप्ताहिक)
47. लखनऊ-वाराणसी एक्सप्रेस (सप्ताह में 6 दिन) वाया रायबरेली
48. मडगांव-मंगलोर इंटरिसटी एक्सप्रेस (दैनिक) वाया उडुपी, करवार
49. मंगलोर-काचेगुडा एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया धोने, गूत्ती, रेणिगुंटा, कोयंबतूर
50. मऊ-आनंद विहार एक्सप्रेस (सप्ताह में 2 दिन)
51. मुंबई-सोलापुर एक्सप्रेस (सप्ताह में 6 दिन) वाया पुणे
52. नागरकोइल-बेंगलुरु एक्सप्रेस (दैनिक) वाया मदुरै, तिरुचिरापल्ली
53. नई दिल्ली-कटरा एसी एक्सप्रेस (सप्ताह में 6 दिन)
54. निजामाबाद-लोकमान्य तिलक (टी) एक्सप्रेस (साप्ताहिक)
55. पटना-सासाराम इंटरिसटी एक्सप्रेस (दैनिक) वाया आरा
56. पाटलीपुत्र (पटना)-बेंगलुरु एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया छिवकी
57. पुडुचेरी-कन्याकुमारी एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया विल्लुपुरम, मइलादुतुरै,
तिरुचिरापल्ली
58. पुरी-साई नगर शिरडी एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया संबलपुर, टिटलागढ़, रायपुर,
नागपुर, भुसावल
59. पुरी-अजमेर एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया आबू-रोड
60. राधिकापुर-आनंद विहार लिंक एक्सप्रेस (दैनिक)
61. राजेन्द्र नगर टर्मिनल (पटना)-न्यू तिनसुकिया एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया
कटिहार, गुवाहाटी
62. तिरुपति-पुडुचेरी एक्सप्रेस (साप्ताहिक)
63. तिरुपति-भुवनेश्वर एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया विशाखापट्नम
64. ऊना/नंगल डैम-हजूर साहेब नांदेड़ एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया आनंदपुर साहिब,
मोरिंडा, चंडीगढ़, अंबाला
65. विशाखापट्नम-जोधपुर एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया टिटलागढ़, रायपुर
66. विशाखापट्नम-कोल्लम एक्सप्रेस (साप्ताहिक)
67. यशवंतपुर-लखनऊ एक्सप्रेस (साप्ताहिक) वाया राय-बरेली, प्रतापगढ़
एक्सप्रेस ट्रेनों की सूचीः
नई पैसेंजर ट्रेनों सूची–
1. बिठंडा-धुरी पैसेंजर (दैनिक)
2. बीकानेर-रतनगढ़ पैसेंजर (दैनिक)
3. भावनगर-पिलटाना पैसेंजर (दैनिक)
4. भावनगर-सुरेन्द्र नगर पैसेंजर (दैनिक)
5. बरेली-लालकुआं पैसेंजर (दैनिक)
6. छपरा-थावे पैसेंजर (दैनिक)
7. लोहारू-सीकर पैसेंजर (दैनिक) आमान परिवर्तन के बाद
8. मडगांव-रत्नागिरी पैसेंजर (दैनिक)
9. मारिकुप्पम-बेंगलुरु पैसेंजर (दैनिक)
10. मुजफ्फरपुर-सीतामढ़ी पैसेंजर (दैनिक) वाया रून्नी सैदपुर
11. नादियाड़-मोडासा पैसेंजर (सप्ताह में 6 दिन)
12. नांदियाल-कुर्नूल टाऊन पैसेंजर (दैनिक)
13. न्यू अमरावती-नारखेड़ पैसेंजर (दैनिक)
14. पुनलूर-कोल्लम पैसेंजर (दैनिक)
15. पूर्णा-परली वैजनाथ पैसेंजर (दैनिक)
16. पलानी-तिरूचंदूर पैसेंजर (दैनिक)
17. रतनगढ़-सरदारशहर पैसेंजर (दैनिक) आमान परिवर्तन के बाद
18. समस्तीपुर-बनमनखी पैसेंजर वाया सहरसा, मधेपुरा (दैनिक) आमान परिवर्तन के
बाद
19. शोरानूर-कोजीकोडे पैसेंजर (दैनिक)
20. सुरेंद्र नगर-ध्रांगध्रा पैसेंजर (दैनिक)
21. सूरतगढ़-अनूपगढ़ पैसेंजर (दैनिक)
22. सोमनाथ-राजकोट पैसेंजर (दैनिक)
23. सीतामढ़ी-रक्सौल पैसेंजर (दैनिक)
24. श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़-सादुलपुर पैसेंजर (दैनिक) आमान परिवर्तन के बाद
25. तालगुप्पा-शिमोगा टाऊन पैसेंजर (दैनिक)
26. त्रिशूर-गुरुवायूर पैसेंजर (दैनिक)
हिन्दुस्थान समाचार/26.02.2013/कौशल
रेलेव क्रॉसिंग खत्म करने की तैयारी
नई दिल्ली, 26 फरवरी (हि.स.)। रेलवे बजट पेश करते हुए रेल मंत्री ने परिवर्तन की नई परिपाटी रखने की घोषणा की है। इसी क्रम में क्रासिंग पर सुरक्षा को देखते हुए उन्होंने लेव क्रासिंग खत्म करने की बात कही।
पवन कुमार बंसल ने कहा कि दिल्ली के अलावा सात और स्टेशनों पर आधुनिक यात्री सुविधा सिस्टम बनाया जाएगा और एक्जीक्यूटिव लाउंज बनेंगे। जम्मू से उधमपुर और अन्य जगहों के लिए रेल-बस टिकट की व्यवस्था होगी। रेल मंत्री ने लोकसभा में बताया कि इस साल 1007 मिलियटन टन माल ढुलाई का लक्ष्य है। भारतीय रेल उन देशों में शामिल हो गया जहां 10 हजार टन भार से ज्यादा की माल ढुलाई वाली ट्रेने चलती हैं। पूर्वी और पश्चिमी गलियारों के 2800 किमी के लिए जमीन अधिग्रहण किया जा चुका है। पूर्वी फ्रेट कारिडोर में 343 किमी कानपुर– खुर्जा सेक्शन पर काम शुरु हो गया है।
सुरक्षा के मुद्दें पर अहम कदम उठाते हुए रेल मंत्री ने कहा कि 12वीं योजना के दौरान हम ज्यादातर लेवल क्रासिंग को खत्म कर देंगे। आग रोकने के लिए पायलट आधार पर फायर एंड स्मोक डिटेक्शन सिस्टम लगाएंगे। सभी डिब्बों और गार्ड रूम में फायर फाइटिंग सिस्सटम लगाएंगे। वन क्षेत्रों में रेल पटरियों पर हाथियों की मौत रोकने के लिए कई कदम उठाए गए हैं। अनारक्षित टिकट प्रणाली के मजबूत करने केलिए टिकट वेंडिंग मशीनें लगाई जाएंगी। रेल में सवार यात्रियों से सपर्क स्थापित करने की कोशिश की जाएगी।
हिन्दुस्थान समाचार/26.02.2013/आकाश।
रेल बजट को लेकर हंगामा, लोकसभा स्थगित
नई दिल्ली, 26 फरवरी (हि.स.)। यूपीए-दो सरकार के अंतिम रेल बजट पेश करते समय रेलमंत्री पवन कुमार बंसल को आज लोकसभा में अड़चनों का सामना करना पड़ा। सरकार को बाहर से समर्थन दे रही समाजवादी पार्टी तथा विपक्षी दलों ने बजट पर विरोध जताते हुए भारी हंगामा किया। हंगामे के कारण रेलमंत्री अपना बजट भाषण भी पूरा नहीं पढ़ पाए।
रेल मंत्री पवन कुमार बंसल ने दोपहर 12 बजकर दस मिनट पर अपना रेल बजट भाषण शुरू किया, लेकिन एक बजकर 25 मिनट पर विपक्षी दलों के सदस्य बजट के खिलाफ नारेबाजी करते हुए आसन के समक्ष आ गए। बजट प्रस्तावों को वापस लिए जाने की मांग करते हुए उन्होंने जब लोकसभा अध्यक्ष के आसन तक विरोध जताया तक सदन को स्थगित करना पड़ा।
सरकार को बाहर से समर्थन दे रही समाजवादी पार्टी के सदस्यों तथा तृणमूल कांग्रेस, अन्नाद्रमुक और जनता दल यू सदस्य रेल बजट की घोषणाओं को अपर्याप्त बताया। अपने-अपने क्षेत्रों की उपेक्षा किए जाने का आरोप लगाते हुए सभी पार्टी ने अपना विरोध जताया। तृणमूल कांग्रेस के सदस्य रेल बजट के प्रस्तावों के खिलाफ नारेबाजी करते देखे गए। मामला काफी गर्म होता देख बंसल ने बजट भाषण रोक दिया तथा उनके बजट को सदन में पढ़ा माना जाये कह कर बैठ गये।
दूसरी ओर, मुख्य विपक्षी दल भाजपा तथा वाम मोर्चा सदस्य भी अपने स्थान पर खड़े होकर विरोध करते देखे गए। हंगामे के बीच बंसल ने रेल बजट भाषण पढ़ना जारी रखा, लेकिन कुछ ही मिनट बाद उन्होंने शेष बचे भाषण को सदन के पटल पर रख दिया। हंगामा थमते नहीं देख अध्यक्ष मीरा कुमार ने सदन की बैठक ढ़ाई बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया।
हिन्दुस्थान समाचार/26.02.2013/आकाश।
रेल बजट : खान पान की स्थिति सुधारने का भी दावा
नई दिल्ली, 26 फरवरी (हि.स.)। रेल मंत्री पवन कुमार बंसल ने रेलवे की सुविधा बढ़ाने के तहत भोज्य व्यवस्था पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि रेलवे में अत्याधूनिक किचन बनाया जायेगा जिससे सभी खान-पान के मामले में शुद्धता को बनाये रखा जा सके।
लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए रेल मंत्री ने बताया कि अत्याधुनिक किचन योजना 18 जनवरी 2013 से केंद्रीय कृत निगरानी ने काम करना शुरू कर दिया है। जो खानपान से जुड़े शिकायतों पर कार्रवाई करता है। ऐसे में सभी ट्रेनों का औचक निरिक्षण कार्यक्रम भी तय किया जायेगा जिससे कोई गड़बड़ी होने की संभावना को भी समाप्त किया जा सके। इस तहर रेलवे परिवार का जनता को बेहतर भोजना उपलब्ध कराने का उद्देश्य भी पूरा होगा।
अपने रेल बजट भाषण में रेल मंत्री ने बेहतर भोजन के मामले पर रेल पेंट्री को भी उच्च स्तर का बनाने की बात कही। उन्होंने कहा कि सभी क्लास के यात्रियों के लिए केटरिंग की बेहतक व्यवस्था की जाएगी और बेस किचन बढ़ाए जाएंगे। सभी बेस किचन का आईएसओ सर्टिफिकेशन होगा, जो सीधे तौर पर यात्रियों की संतुष्टी और असंतुष्टी के पैमाने के आधार पर चलेगी। इसके अलावा, किचन सिस्टम में स्वास्थ्य को लेकर बेहतर फूड आब्जेक्ट को ही लोगों को परोसने का काम किया जायेगा।

हिन्दुस्थान समाचार/26.02.2013/आकाश।
धन की कमी रेलवे की विकास में बडी बाधा,नहीं बढेगा यात्री किराया
नई दिल्ली, 26 फरवरी (हि.स.)। रेल मंत्री बनने के बाद लगातार दो बार रेल यात्री किराया बढ़ा चुके रेल मंत्री पवन कुमार बंसल ने कहा कि रेलवे के विकास में धन की कमी बड़ी समस्या हैं। रेल मंत्री ने कहा कि रेल यात्री किराया में किसी प्रकार की बढोतरी नहीं होगी। बसंल ने सुरक्षा में और सफाई पर विशेष ध्यान देने की बात अपने रेज बजट भाषण में कही। उन्होंने कहा कि भारत की एकता में रेलवे का महत्पूर्ण योगदान है।
मंगलवार को लोकसभा में संप्रग का अंतिम रेल बजट पेश करते हुए बसंल ने कहा कि रेलवे के पास पैसे की बहुत कमी है। उन्होंने कहा कि पैसे के कम करण अनके बडे प्रोजेक्टों का काम सुस्त गति से से चल रहा है। उन्होंने कहा कि रेलवे 24 हजार 6 सौ करोड़ रूपये घाटे में चल रहा है। उन्होंने कहा कि 12वीं योजना में योजना आयोग ने रेलवे को 5.19 लाख करोड रूपये दिये है। बसंल ने इस वितीय वर्ष में रेलवे को 1.43 लाख करोड रूपये के आमदनी का अनुमान है।
रेलमंत्री ने कहा कि सुरक्षा हमारे लिए सबसे बडी चिंता है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा पर अनिल काकोदर और सैम पित्रोदा आयोग के सुझाव को लागू किया गया है। कुंभ के दौरान इलाहाबाद स्टेशन पर हुई दुघर्टना अफसोस जताते हुए उन्होंने कहा कि पिछले दशक में रेल दुर्घटनाओं में कमी आई है। आग से सुरक्षा के लिए प्रोटक्टेशन ट्रेन बर्निंग प्रोटेक्शन सिस्टम लगाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि रेलवे क्रासिंग पर हो रही दुर्घटनाएं चिंता की विषय है। रेलमंत्री ने कांजीगुडा और बारामुला के बीच रेल प्रोजेक्ट का पुरा करना हमारे लिये गर्व की बात है।
हिन्दुस्थान समाचार/26.0
2.2013/सत्येन्द्र।
चुनावी राज्यों में को दिये तोहफे
नई दिल्ली, 25 फरवरी (हि.स.) । कांग्रेस के पास रेलमंत्रालय लगभग 17 साल के बाद आया, इसका पूरा लाभ कांग्रेस ने उठाना चाहा। रेल मंत्री ने उन राज्यों का पूरा ख्याल रखा है, जहां कांग्रेस शासन में है और वे राज्य इस वर्ष के अंत में या अगले साल चुनाव विधानसभा चुनाव में जा रहें। रेलमंत्री ने इस साल चुनाव में जाने वाले राज्य राजस्थान के भीलवाड़ा में रेल फैक्ट्ररी लागने की घोषणा की है।
रेलमंत्री के लीरूट में राजस्थान ही एकमात्र कांग्रेस शासित राज्य नहीं है, हरियाणा को भी रेल फैक्ट्ररी को मिली। हरियाणा के सोनीपत में रेल फैक्टरी लगाने की घोषणा रेलमंत्री ने अपने बजट भाषण में की है। इसके साथ आन्ध्रप्रदेश के कन्नूर में भी रेल फैक्टरी लगाने की घोषणा रेलमंत्री ने इस बजट में की है।
बसंल ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को ध्यान में भी रखा है। बसंल ने उनके संसदीय क्षेत्र रायबरेली में रेल फैक्टरी और पहिया बनाने का करखाना लगाने की घोषणा की है।
हिन्दुस्थान समाचार/26.02.2013/सत्येन्द्र
नहीं बढ़ा यात्री किराया, तत्काल व सरचार्ज के जरिए कटेगी जनता की जेब

नई दिल्ली, 26 फरवरी (हि.स.)। कुछ दिन पहले ही बढ़े यात्रा किराये के बाद आज रेल मंत्री ने रेल बजट पेश करते हुए किराया नहीं बढ़ाने की बात कही है। उन्होंने कहा का रेलवे के घाटे को देखते हुए किराया बढ़ाया जाना काफी जरुरी है, इसके बावजूद सरकार लोगों की समस्याओं को समझते हुए किराया नहीं बढ़ा रही है। पर रेलवे के घाटे की पूर्ति के लिए तत्काल, माल भाड़े व अन्य सरचार्ज में वृद्धि की गई है।
जनता की समस्याओं को समझने की बात करते हुए रेल मंत्री पवन कुमार बंसल ने अपने बजट भाषण को शायरी के जामे में लपेटने का करतब दिखाया। उन्होंने दुष्यंत कुमार का शेर कहते हुए कहा कि ‘सिर्फ हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं, शर्त ये है कि सूरत बदलनी चाहिए’। अपने शेर को पूरा करते हुए रेल मंत्री ने रेल किरायों में कोई बढ़ोतरी नहीं करने का ऐलान किया। साथ ही उन्होंने कहा कि रेल बजट के तहत यात्री किरायों में कोई फेरबदल नहीं किया गया है। हालांकि तत्काल और रिजर्वेशन शुल्क में बढ़ोतरी का प्रस्ताव है, साथ ही सुपरफास्ट चार्ज में बढ़ोतरी होगी।
हालांकि 22 जनवरी 2013 को बढ़ाए गए रेल किरायों पर रेल मंत्री पवन बंसल ने कहा कि किरायों में बढ़ोतरी को मुनाफे के रूप में नहीं देखना चाहिए। रेल मंत्रालय की एक स्वतंत्र रेल टैरिफ अथॉरिटी बनाए जाने की योजना है। तेल कीमतों में बढ़ोतरी से मालढुलाई भाड़ा औसतन 5 फीसदी बढ़ाया गया है। भले ही रेल किरायों में सीधे बढ़ोत्‍तरी की घोषणा नहीं की गई हो लेकिन ईंधन और बिजली घाटे के समायोजन के लिए हर ‌टिकट पर फ्यूल सरचार्ज लगाने की घोषणा ने जेब को जरुर निशाना बनाया है।
हिन्दुस्थान समाचार/26.02.2013/आकाश।
रेल मंत्री ने दिखायी महिला सुरक्षा पर प्रतिबद्धता, महिला आरपीएफ की होगी तैनाती
नई दिल्ली, 26 फरवरी (हि.स.)। रेलमंत्री पवन कुमार बंसल ने मंगलवार को रेल बजट पेश करते हुए महिला यात्रियों की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया। साहित्यिक अंदाज में रेल बजट भाषण के दौरान कहा कि जब लोग सफर करते हैं तो रेल का इंजन कहता है, ‘मैं खींच सकता हूं… मैं कर सकता हूं।’ महिलाओं की सुरक्षा के बाबत उन्होंने कहा है कि रेलवे में महिलाओं की सुरक्षा के मद्देनजर हेल्पलाइन शुरू की जाएगी। साथ ही, यात्रियों की सुरक्षा के इंतजामात भी बढ़ाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि यह संभव नहीं है कि ट्रेनों के सभी डिब्बों में महिला कांस्टेबल की तैनाती हो सके, फिर भी यात्रियों की सुरक्षा को काफी हद तक पुख्ता बनाया जाएगा।
मंगलवार को अपना पहला बजट पेश कर रहे रेलमंत्री पवन बंसल ने कहा है कि ट्रेनों में महिलाओं के साथ कई घटनाएं हो चुकी हैं, ऐसे में उनकी सुरक्षा का ध्यान रखना लाजमी है। रेलमंत्री ने यह बात उस वक्त कही है जब देशभर में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सरकार पर कई तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं। अपने बजट भाषण के दौरान बंसल ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए रेलवे प्रोटैक्शन फोर्स में दस फीसदी पद पर महिलाओं के लिए आरक्षित करने की बात कही है। महिला सुरक्षा की बात करते हुए उन्होंने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए आरपीएफ के चार कंपनियों की तैनाती की जायेगी। ऐसे में महिलाओं की समस्याओं को समझते तथा उनका जल्द निबटारा करने में आसानी होगी।
मालूम हो कि रेल बजट पेश करने से पहले उनकी पत्नी मंधु बंसल ने भी महिला यात्रियों की सुरक्षा को सबसे अहम मुद्दा बताया। उन्होंने महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए रेलवे द्वारा हेल्पलाइन नंबर जारी करने की बात कही थी। इसी पर शायद रेलमंत्री ने भी महिला हेल्पलाइन नंबर 180011321 को जल्द शुरु किये जाने की घोषणा कर दी। हालांकि रेल मंत्री की पत्नी मधु बंसल ने अपने पति का बचाव करते हुए कहा था कि मेरे पति को अभी यह मंत्रालय संभाले हुए सिर्फ चार महीने ही हुए है उन्हे समय देना चाहिए। पति के साथ-साथ उनके बेटे अमित बंसल ने भी महिलाओं की सुरक्षा के लिए हेल्पलाइन नंबर. शिकायतों पर फौरन ही सख्त कदम उठायें जाने की बात कही थी।
हिन्दुस्थान समाचार/26.02.2013/ऋषभ
रेल मंत्री की पत्नी ने की महिला हेल्पलाइन चलाने की मांग
नई दिल्ली, 26 फरवरी (हि.स.)। रेल मंत्री पवन कुमार बंसल की पत्नी मधु बंसल ने मंगलवार को कहा कि रेल मंत्रालय को महिला यात्रियों के लिए हेल्पलाइन की सुविधा शुरू करनी चाहिए। इससे महिलाएं किसी भी प्रकार की आपातकालीन स्थितियों में शिकायत दर्ज करा सकेंगी।
मधु बंसल का कहना है कि रेल मंत्री को पता है कि रेल बजट में किस प्रकार से जनता की सहूलियतों के रखा जाये। मधु ने कहा कि वह चाहती हैं कि रेलवे रेलगाड़ियों में सफाई और महिलाओं की सुरक्षा को सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा, ‘मैं चंडीगढ़ और दिल्ली के बीच आमतौर पर सफर करती हूं और मुझे यात्रा सुरक्षित लगती है। मुझे लगता है कि रेलवे में महिलाओं के लिए एक हेल्पलाइन होनी चाहिए ताकि महिला यात्री परेशानी की स्थिति में शिकायत दर्ज करा सकें।’
बता दें कि महिला सुरक्षा को देखते हुए रेल मंत्री ने इसके लिए पुख्ता कदम उठाये हैं। रेल मंत्री ने महिला सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए महिला सीआरपीएफ की नियुक्ति तय की जायेगी। साथ ही महिला हेल्प भी नंबर 180011321 को शुरु किया जायेगा, जिससे महिलाएं दिक्कतों के समय पुलिस से संपर्क कर सकें।

हिन्दुस्थान समाचार/26.02.2013/आकाश।

नही बढ़ेगा यात्री किराया, एक नज़र रेल बजट पर
नई दिल्ली, 26 फरवरी (हि.स.)। केंद्रीय रेल मंत्री पवन कुमार बंसल ने मंगवार को रेल बजट पेश किया। इस बार के रेल बजट में सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया गया है। साथ ही यात्री किराया नहीं बढ़ाया गया है। इस रेल बजट के मुख्य अंश इस प्रकार है
* दिल्ली के तीन स्टेशनों पर 100 करोड़ रुपए खर्च किए गए।
* अब कोई नई अनमैन्ड क्रॉसिंग नहीं बनेगी।
* महिला रेल कर्मचारियों के लिए हॉस्टल की सुविधा होगी।
* रेलवे सुरक्षा कर्मियों के बैरकों की स्थिति में सुधार होगा।
* स्टाफ क्वॉर्टर पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत बनाए जाएंगे।
* पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के जरिए चंडीगढ़ में आधुनिक सिग्नलिंग सिस्टम लगाया जाएगा।
* डेढ़ लाख वेकेंसी भरने के लिए 60 शहरों में रेलवे रिक्रूटमेंट।
* सोनिया गांधी के चुनाव क्षेत्र राय बरेली में एक और फैक्ट्री लगाने का प्रस्ताव।
* लोकसभा में शोर-शराबा।
* रेलवे का फिजूल खर्च रोकने पर जोर।
* पैसा बचाना रेलवे का मकसद।
* 104 स्टेशनों पर और ज्यादा सुविधाएं दी जाएंगी।
* राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार पाने वालों को मिलेगा पास।
* रेल का कचला बेचकर 4500 करोड़ जुटाने का लक्ष्य।
* लोहे की खदानों को रेल से जोड़ने के लिए 800 करोड़।
* डिब्बों में आग रोकने के लिए उपाय हुए हैं।
* केरल में नई कोच फैक्टरी लगेगी।
* नागपुर में इलेक्ट्रनिक तकनीक सेंटर खुलेगा।
* 25 साल में पहली बार रेलवे ने ज्यादा पैसे नहीं मांगे।
* सोनीपत में लगेगी रेल फैक्टरी।
* डिब्बों में आग लगने से रोकने के उपाय हुए हैं। और ज्यादा स्मोक डिटेक्टर्स लगाए जाएंगे।
* सीनियर सिटीजन के लिए बड़े स्टेशनों पर 400 लिफ्ट लगेंगी।
* ओलिंपिक पदक विजेताओं और अर्जुन पुरस्कार विजेता खिलाड़ियों को प्रथम, द्वितीय श्रेणी एसी के टिकट दिए जाएंगे।
* अविवाहित शहीद सैनिकों के माता पिता को प्रथम, द्वितीय श्रेणी एसी के टिकट दिए जाएंगे।
* वैष्णोदेवी जाने के लिए रेल और बस कॉमन टिकट रखने का प्रस्ताव।
* कैटरिंग में प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं होगा।
* रायबरेली में एक और रेल फैक्टरी चलेगी।
* कुरनूल में भी रेल फैक्टरी लगेगी।
* तीन नई फैक्टरियां तीनों ही कांग्रेस शासित राज्यों में लगेंगी।
* रेलवे स्टाफ क्वार्टर निजी क्षेत्र के साथ मिलकर बनेंगे।
* 300 करोड़ से रेलवे क्वार्टर बनेंगे।
* ऑनलाइन बु‍किंग रात 11.30 बजे से 12.30 बजे तक ही बन्द रहेगी।
* नेक्स्ट जनरेशन ई टिकटिंग सिस्टम लागू होगा, जो एक मिनट में 7200 टिकट बुक कर सकता है। वर्तमान में यह संख्या 2000 टिकट प्रति मिनट ही है।
* साथ ही नए सिस्टम को एक साथ 1 लाख 20 हजार यूजर उपयोग कर पाएंगे। वर्तमान में यह संख्या 40 हजार है।
* ऑनलाइन बुकिंग 23 घंटे चालू।
* कालाहांडी, उड़ीसा में नए माल डिब्बा अनुरक्षण कारखाना प्रस्तावित।
* पीपीपी के जरिए माडर्न सिग्नलिंग उपस्कर सुविधा की व्यवस्था।
* रेलवे में आधार कार्ड का इस्तेमाल होगा।
* आधुनिक ई-टिकट सिस्टम लागू होगा।
* बड़ी ट्रेनों में शताब्दी और राजधानी ट्रेनों जैसा एक कोच लगाया जाएगा।
* खाने की क्वॉलिटी लगातार चेक करने के लिए एक सिस्टम बनाया जाएगा।
* काकोदकर, पित्रोदा कमिटी की सिफारिशों पर विचार होगा।
* बायो टॉइलट की संख्या बढ़ाई जाएगी।
* 12वीं पंचवर्षीय योजना में रेलवे को 5.19 लाख करोड़ रुपये मिले हैं।
* दुर्घटना हो तो एक सहायता ट्रेन तेजी से हादसे की जगह पहुंचे, इसका प्रस्ताव है।
* कुछ ट्रेनों में आधुनिक सुविधाओं वाला अनुभूति डिब्बा लगाया जाएगा।
* टिकट से जुड़ी सारी जानकारी SMS और फोन पर मिलेगी।
* चुनिंदा ट्रेनों में वाई फाई सुविधा देने का प्रस्ताव।
* बेहतर धुलाई के लिए 8-10 लॉन्ड्रियां बनेंगी।
* बारहवीं योजना में पीपीपी के जरिए एक लाख करोड़ रुपए के निवेश का लक्ष्य।
* आरक्षित टिकट वाले सभी यात्रियों के लिए पहचान पत्र अनिवार्य करने का प्रस्ताव।
* खाने की गुणवत्ता के ‍लिए रेल परिसरों में अत्याधुनिक बेस ‍किचन बनाने का प्रस्ताव।
* बिलासपुर, पटना, आगरा, विशाखापट्टनम, नागपुर, जयपुर, बेंगलुरू पर एक्जीक्यूटीव लांज शुरू करने का प्रस्ताव।
* आजादी एक्सप्रेस नाम से सस्ती शैक्षिक पर्यटक गाड़ी चलाने का प्रस्ताव
* भारतीय रेल इस वर्ष‍बिलियन टन के विशिष्ट क्लब में शामिल,
* इस वर्ष 1007 मिलियन टन का प्रारंभिक माल लदान होने का अनुमान।
* भारतीय रेल 10 हजार टन भार से अधिक की माल गाड़ी चलाने वाले देशों में शामिल।
* 60 और स्टेशनों को आदर्श स्टेशन बनाया जाएगा।
पूर्वी माल गलियारे में 343 किलोमीटर कानपुर-खुर्जा सेक्शन पर काम शुरू।
* मोबाइल फोनों के माध्यम से ई-टिकट बुक कराने का प्रस्ताव
* रियल टाइम सूचना प्रणाली के अंतर्गत अधिक से अधिक गाड़ियों को शामिल करने की योजना।
* ट्रेन प्रोटेक्शन वॉर्निंग सिस्टम को लागू करने की जरूरत
* स्मोक डिटेक्टर लगाएं जाएंगे।
* ‍महिलाओं की सुरक्षा पर जोर
* आरपीएफ में महिलाओं की 4 कं‍पनियां बनेंगी।
* रेल मंत्री ने गिनाई प्राथकिताएं…
* 6 रेल नीर प्लांट स्थापित किए जाएंगे, जिनमें छत्तीसगढ़ का बिलासपुर भी शामिल हैं।
* 6 नीर बॉ‍टलिंग प्लान्ट और लगाए जाएंगे।
वृद्ध लोगों के लिए बड़े स्टेशनों पर 179 एस्केलेटर और 400 लिफ्ट की व्यवस्था की जाएगी।
* विकलांग व्यक्तियों के लिए जेटीबीएस आरक्षित करने का प्रस्ताव।
* रेलवे में ट्रेनों की संख्या बढ़ाना या ट्रेन की लंबाई बढ़ाना पैसेंजर की सुरक्षा की कीमत पर नहीं हो। इस संदर्भ में उन्होंने दुष्यंत कुमार की पंक्तियों को उद्धृत किया – सिर्फ हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं
* ट्रेन प्रोडक्शन वर्निंग सिस्टम लागू
* आरपीएफ की भर्ती में महिलाओं को 10 फीसदी आरक्षण।
* कई रेलवे झोन में हेल्पलाइन नंबर दिए गए हैं।
* मैंने भी महसूस किया क‍ि साफ-सफाई बढ़ाने की जरूरत है।
* यात्री दुर्घटनाओं में कमी आई।
* हादसे ने संदेश दिया कि सुरक्षा और मजबूत करनी होगी।
* माल भाड़ा बढ़ाकर ही रेलवे का खर्चा निकाला जाता है।
* स्मोक डिटेक्टर सिस्टम ट्रेनों में लगाया जाएगा।
* रेलवे क्रॉसिंग पर हादसे रोकने के लिए 37 हजार करोड़ रुपए चाहिए।
* महिलाओं की सुरक्षा पर ज्यादा जोर।
* आरपीएफ की चार कंपनियां बनाईं गईं।
* रेलवे को 24000 करोड़ रुपए का घाटा।
* रेल दुर्घटनाओं को पूरी तरह रोकना है।
* रेलवे क्रॉसिंग पर हादसे चिंता की बात।
* रेलवे को वित्तीय रूप से समर्थ होना चाहिए।
* सुरक्षित यात्रा यात्रियों का अधिकार
* सुरक्षा बढ़ाने के लिए कई सुझाव मिले हैं।
* रेल की प्रगति देश की प्रगति
* रेलवे सेफ्टी फंड से काफी लाभ हुआ है।
* फंड की कमी से रेलवे के सामने एक बड़ी चुनौती।
* नई गाड़ियों की वजह से रेलवे का घाटा बढ़ा है।
* रेल मंत्रालय ने इलाहाबाद हादसे पर दुख जताया।
* वर्ष 2002 में 800 ट्रेनें थी जो 2011-2012 में बढ़कर करीब 12000 हो गईं।
* बीते 10 साल में करीब चार हजार ट्रेने चलाई।
* खर्चा बढ़ा इसलिए माल भाड़ा बढ़ाना पड़ा।
* देश के विकास में रेलवे की अहम भूमिका।
* रेलवे में सुधार के लिए हमें हर तरफ से सुझाव मिले।
* रेलवे को वित्तीय रूप से मजबूत बनाना चुनौती।
* रेल कर्मचारियों की मेहनत पर हमें गर्व हैं।
* रेलवे ने देश की एकता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
* उन्होंने कहा कि मेरे मन में मिली जुली भावनाएं हैं।
* पवन बंसल का बजट भाषण शुरू
* रेल मंत्री पवन बंसल ने पेश किया रेल बजट।
* संसद की कार्यवाही शुरू, कुछ ही क्षणों में पेश होगा रेल बजट।
* संसद भवन पहुंचे पवन बंसल, कुछ ही देर में पेश करेंगे रेल बजट।
* बंसल ने कहा, सुरक्षा पर होगा खास ध्यान।
* जानकारों का मानना है कि महंगे डीजल की आड़ में सेस या सरचार्ज लगाया जा सकता है।
* ऐसा माना जा रहा है कि सीधे रेल किराया बढ़ाने की घोषणा नहीं होगी।
* एक रुपए डीजल महंगा होने से 250 करोड़ का रेलवे पर बोझ।
* लगभग 10.10 बजे पर रेल भवन पहुंचे पवन बंसल।
* बंसल 17 साल बाद रेल बजट पेश करने वाले पहले मंत्री होंगे।
हिन्दुस्थान समाचार/26.02.2013/आकाश/अनूप
अब इंटरनेट पर होगी 23 घंटे बुकिंग : रेल मंत्री
नई दिल्ली, 26 फरवरी (हि.स.)। रेलमंत्री पवन कुमार बंसल ने अपने पहले रेल बजट में आईआरसीटीसी व ई-टिकटिंग बुकिंग के प्रावधानों में काफी परिवर्तन किया है। यात्री अब अपने मोबाईल से भी ई-टिकटिंग की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। बंसल ने आईआरसीटीसी की क्षमता को कई गुणा बढ़ाने की बात की है। इंटरनेट पर बुकिंग अब 23 घंटे की जाएगी। इसकी समय सीमा रात साढ़े 12 बजे से अगले दिन रात साढ़े 11 बजे तक होगी।
बंसल ने कहा कि टिकट की बिक्री को पारदर्शी बनाएगें।साथ ही टिकट बिक्रि के दौरान वाई-फाई की सुविधा दी जाएगी। इतना ही नहीं अब हर मिनट दो हजार टिकट की जगह 7200 टिकट बनेंगे। उन्होंने कहा कि इस साल के अंत तक ई-टिकट की नयी प्रणाली आ जाएगी।
हिन्दुस्थान समाचार/ 26.02.2013/कौशल
रेल बजट में फाटक से जुड़ी समस्या पर विशेष ध्यान

नई दिल्ली, 26 फरवरी(हि.स.)। रेल मंत्री पवन कुमार बंसल ने मंगलवार को पेश किये गये रेल बजट में रेलवे लाइन क्रासिंग से जुड़ी सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया है। उन्होंने कहा कि रेलवे फाटकों को समाप्त करने के अलावा क्रासिंग के दौरान होने वाली दुर्घटनाओं से निपटने का कोई और समाधान संभव नही है।
रेल मंत्री ने कहा कि रेल हादसे अधिकतर फाटकों पर होते हैं। उन्होंने कहा कि रेल यात्रा को दुर्घटनारहित बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। इसी क्रम में किये गये प्रयासों से यात्रियों की संख्या और माल ढुलाई में काफी वृद्धि हुई और हादसों में कमी आई है। रेलवे फाटक समाप्त करने को 37 हज़ार करोड़ रुपये चाहिए होंगे। भविष्य में कोई नया रेलवे फाटक नहीं बनाया जाएगा, बेहतर सिग्नल प्रणाली पर जोर दिया जाएगा

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s